Thursday, June 13, 2024
Homeमहाराष्ट्रमरीज के पेट में सेफ्टी पिन और ब्लेड! बिना सर्जरी ऐसे निकाली...

मरीज के पेट में सेफ्टी पिन और ब्लेड! बिना सर्जरी ऐसे निकाली 23 नुकीली चीजें

पुडुचेरी: पुडुचेरी के एक प्राइवेट अस्पताल में डॉक्टरों की एक टीम ने एक 20 वर्षीय मरीज के पेट से 13 हेयरपिन, पांच सेफ्टी पिन और पांच रेजर ब्लेड निकाला है.  20 वर्षीय व्यक्ति मानसिक बीमारी से पीड़ित है. टीम ने इसे निकालने के लिए एंडोस्कोपिक प्रक्रिया को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है. गैस्ट्रोएंटरोलॉजी एंड मेडिकल सेंटर (जीईएम) अस्पताल की टीम ने कहा कि युवक को गंभीर पेट दर्द और खून की उल्टी की शिकायत के साथ भर्ती कराया गया था.

जांच से पता चला कि उसके पेट में बाहरी वस्तुएं मौजूद हैं. वह बचपन से ही मानसिक दिक्कतों से पीड़ित है. हालांकि, उन्होंने किसी भी ऐसी वस्तु के सेवन से इनकार किया है. लेकिन एंडोस्कोपिक प्रक्रिया के दौरान, पेट में एक कठोर वस्तु मिली. कई नुकीली वस्तुएं अंदर घुसी हुई थीं. डॉक्टर्स की टीम ने कहा कि इससे आंतों में गंभीर  बीमारी होने की आशंका बढ़ गई थी. जीईएम अस्पताल के सर्जिकल गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट डॉ के शशिकुमार ने कहा, टीम ने ओपन सर्जरी के बजाय एंडोस्कोपिक तरीके से इन सामानों को हटाने का फैसला किया.

सर्जिकल गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट डॉ के सुगुमरन ने कहा, “मरीज के माता-पिता भी ओपन सर्जरी नहीं चाहते थे. हमने उन्हें बताया कि हम पेट तक पहुंचने और वस्तुओं को निकालने के लिए मुंह में एक ट्यूब डालेंगे. यह एक चुनौतीपूर्ण प्रक्रिया है क्योंकि ये नुकीली वस्तुएं हैं.”

युवक को 7 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. टीम ने 8 अगस्त को लगभग दो घंटे तक चली प्रक्रिया के दौरान सभी नोकदार चीजों को हटा दिया. मरीज पर उपचार का अच्छा असर हुआ और उसे अगले दिन, 9 अगस्त को छुट्टी दे दी गई. डॉ. के. शशिकुमार ने कहा, उसी शाम उन्होंने सामान्य आहार लेना शुरू कर दिया. टीम के अन्य सदस्यों में मेडिकल गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट डॉ. जी राजेश और एनेस्थेसियोलॉजिस्ट डॉ. रंजीत शामिल थे. जीईएम हॉस्पिटल्स के अध्यक्ष डॉ सी पलानीवेलु ने सराहनीय प्रयास के लिए टीम की सराहना की.

Tags: Doctors, Puducherry

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!