Sunday, July 14, 2024
Homeमहाराष्ट्रखुशखबरी...राम मंदिर ट्रस्‍ट का बड़ा फैसला, प्राण प्रतिष्ठा के बाद 10 करोड़...

खुशखबरी…राम मंदिर ट्रस्‍ट का बड़ा फैसला, प्राण प्रतिष्ठा के बाद 10 करोड़ लोगों तक पहुंचेंगे रामलला!

सर्वेश श्रीवास्तव/अयोध्या. यूपी के अयोध्या में प्रभु राम का दिव्य और भव्य मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के लिए बनकर तैयार है. श्री राम ट्रस्ट के मुताबिक, 22 जनवरी 2024 को प्रभु राम अपने भव्य महल में विराजमान होंगे, तो पूरी अयोध्या अद्भुत और अलौकिक नजर आएगी. वहीं, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं. इस वक्‍त भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर अयोध्या में अलग-अलग बैठकों का दौर भी जारी है.

इसी बीच राम मंदिर से एक बड़ी खबर सामने निकल कर आ रही है. राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के बाद तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट 10 करोड़ राम भक्तों को विराजमान रामलला की तस्वीर भेजेगा. बता दें कि राम मंदिर में 5 वर्षीय बालक स्वरूप रामलला विराजमान होंगे. प्राण प्रतिष्ठा के बाद उनकी मूर्ति की फोटो ली जाएगी और उस फोटो को राम मंदिर के प्रसाद के साथ पूरे देश के 10 करोड़ राम भक्तों में वितरित किया जाएगा.

ऐतिहासिक होगा दिन
जब रामलला भव्य महल में विराजमान होंगे, तो वह ऐतिहासिक दिन होगा. हर राम भक्त के मन में यह लालसा होगी कि राम मंदिर में किस तरह से रामलला विराजमान हैं. इसको लेकर एक कमेटी का निर्माण किया जाएगा, जो कि छोटी-छोटी टुकड़ियों में शहर से लेकर गांव तक जाएंगे और रामलला का प्रसाद समेत उनकी तस्वीर भेंट करेंगे.

रामलला बालक स्वरूप में विराजमान होंगे
श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि जिस मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी, उसकी एक तस्वीर ली जाएगी और अयोध्या आने वाले प्रत्येक राम भक्तों को दी जाएगी. इसके अलावा हिंदुस्तान के 10 करोड़ राम भक्तों के घरों में वह चित्र पहुंचाया जाएगा. इतना ही नहीं राम मंदिर में रामलला बालक स्वरूप में विराजमान होंगे. 5 वर्ष के बालक के रूप में रामलला की पूजा आराधना की जाएगी. प्राण प्रतिष्ठा के बाद राम मंदिर में रामानंद परंपरा के मुताबिक पूजन अर्चन होगा.

Tags: Local18, Ram Mandir ayodhya, Ram mandir construction, Ram mandir news, Ram Mandir Trust

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!