Thursday, May 23, 2024
Homeमहाराष्ट्रPM मोदी के खिलाफ 'बिगड़े बोल' कहीं चुनावों में डुबो न दें...

PM मोदी के खिलाफ ‘बिगड़े बोल’ कहीं चुनावों में डुबो न दें कांग्रेस की लुटिया

हाइलाइट्स

बीजेपी का सपोर्ट करने वालों को राक्षसी प्रवृत्ति का बता चुके सुरजेवाला
पीएम मोदी के खिलाफ कांग्रेस के कुछ नेता कर रहे निजी टिप्‍पणी

देश में चुनावों की बेला दस्‍तक दे रही है. वर्ष के अंत में मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान, छत्‍तीसगढ़ के अलावा तेलंगाना और मिजोरम में भी विधानसभा चुनाव होने हैं. एमपी, राजस्‍थान और छत्‍तीगढ़ में तो कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (BJP) के बीच सीधा मुकाबला है. इन तीनों राज्‍यों में चुनाव नजदीक आते ही सियासी बिसात बिछने लगी है और पार्टियों अपनी रणनीति को अंतिम रूप देने में जुटी हैं. बीजेपी ने मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ की कुछ सीटों पर प्रत्‍याशी घोषित कर प्रतिद्वंद्वी पार्टी कांग्रेस पर कुछ बढ़त बना ली है.कांग्रेस की बात करें तो इसके नेता अभी बयानबाजी में ही व्‍यस्‍त हैं.ऐसा लग रहा कि उनकी दिलचस्‍पी जमीनी तैयारी के बजाय बयान देने में ही ज्‍यादा है. इसमें से कुछ नेताओं के बयान तो ऐसे हैं जो पार्टी के लिए नुकसान पहुंचाने का काम कर सकते हैं.

दिग्‍गज कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) हाल ही में विवादित बयान देते हुए बीजेपी की विचारधारा का समर्थन करने वालों को राक्षसी प्रवृत्ति का बताकर अपनी ही पार्टी को बगलें झांकने पर मजबूर दिया था.उनका यह बयान कांग्रेस को ‘बैकफायर’ कर सकता है. कुछ प्रमुख नेताओं ने तो पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ ऐसे शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया जो चुनावों में पार्टी को नुकसान पहुंचा सकता है.देश के वोटरों को वह दौर याद होगा जब 2007 के गुजरात विधानसभा चुनाव और बाद में 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी के लिए ‘मौत का सौदागर’, ‘चायवाला’, ‘चौकीदार चोर’ जैसे विशेषणों का इस्‍तेमाल किया था जो कांग्रेस के लिए भारी साबित हुए थे और उसे चुनाव में करारी हार मिली थी.

कांग्रेस नेताओं के ताजा विवादित बोल

सुरजेवाला ने बीजेपी का समर्थन करने वालों को दिया श्राप :वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता और राष्‍ट्रीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने इसी माह हरियाणा में एक रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी को वोट देने वालों को राक्षसी प्रवृत्ति को बताया था.यही नहीं, उन्‍होंने ऐसे लोगों को श्राप भी दे डाला था. सुरजेवाला ने कहा था, ‘वो सभी लोग जो बीजेपी को वोट देते हैं वो राक्षस हैं, वो सभी लोग जो बीजेपी की विचारधारा का समर्थन करते हैं उनमें राक्षसी प्रवृत्ति है.मैं ऐसे लोगों को महाभारत की धरती से खड़े होकर श्राप देता हूं.’सुरजेवाला के इस बयान के बाद बीजेपी हमलावर मुद्रा में है. इस बीच, हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष उदयभान में सुरजेवाला को मर्यादित भाषा के उपयोग की नसीहत दी है.

रंधावा ने पीएम को बताया ‘गपोड़शंख’ : पंजाब के पूर्व उप मुख्‍यमंत्री और राजस्‍थान के कांग्रेस प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा (Sukhjinder Singh Randhawa) ने पिछले माह पीएम को ‘गपोड़शंख’ बताया था. उन्‍होंने कहा था कि बीजेपी के पास प्राइम मिनिस्टर मोदी जैसा गपोड़शंख है जो बातें ही करता है,लेकिन लोगों को देता कुछ नहीं है. जब मणिपुर जब रहा हैं तो प्रधानमंत्री विदेशों का दौरा कर रहे हैं.

शब्‍दों की मर्यादा भूल बैठे पूर्व केंद्रीय मंत्री भूरिया : पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्‍य प्रदेश के वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता कांतिलाल भूरिया (kantilal bhuria) भी एक कार्यक्रम के दौरान शब्‍दों की मर्यादा भूल बैठे थे और पीएम की पत्‍नी को लेकर विवादित टिप्‍पणी कर बैठे थे. बता दें, कांग्रेस ने कांतिलाल भूरिया को अपनी कैंपेन कमेटी का चेयरमैन बनाया है. 30 जुलाई को झाबुआ में आयोजित आदिवासी स्‍वाभिमान यात्रा को संबोधित करते हुए भूरिया ने यह टिप्‍पणी की थी. सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी ने इसे लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी.राज्‍य बीजेपी अध्‍यक्ष वीडी शर्मा ने कहा था कि जो हल्‍के लोग होने हैं, उनके जीवन में संस्‍कार नाम की कोई चीज नहीं होती. वह इस तरह की बयानबाजी अपने आपको चर्चा में लाने के लिए करते हैं.

एमपी के वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता ने दिया था विवादित बयान: मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर गतिविधियां तेज हो गई हैं. इसी क्रम में पीएम नरेंद्र मोदी जून माह में प्रदेश के दौरे पर पहुंचे थे. उनके इस दौरे के पहले प्रमुख कांग्रेस नेता औ राज्‍य इकाई के पूर्व अध्‍यक्ष अरुण यादव ने पीएम के पिता को लेकर विवादित बयान दिया था. उन्‍होंने कहा था, ‘पीएम मोदीजी आ रहे है, यदि उनके…….तो भी हमें आपत्ति नहीं है. एमपी में बदलाव की बयार है.’ इसी तरह एक प्रेस कॉन्‍फ्रेस में कांग्रेस नेता पवन खेड़ा भी पीएम के बारे में बेहद आपत्तिजनक शब्‍दों का इस्‍तेमाल कर आलोचना का शिकार बने थे.

कांग्रेस अध्‍यक्ष खरगे भी पीछे नहीं: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun kharge) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को’जहरीले सांप की तरह’बताकर विवाद को जन्‍म दिया था.उनका यह बयान कर्नाटक राज्‍य में विधानसभा चुनाव के पहले आया था. खड़गे ने कहा था-मोदी जहरीले सांप की तरह हैं.आप इसे जहर समझें या न समझें लेकिन अगर आप इसे चखेंगे तो मर जाएंगे. हालांकि इस बयान पर विवाद उठने के बाद खड़गे ने इस पर सफाई भी दी थी. उन्होंने कहा था, ‘BJP की विचारधारा विभाजनकारी, वैमनस्यपूर्ण, गरीबों व दलितों के प्रति नफरत व पूर्वाग्रह से भरी है. मैंने इसी नफरत व द्वेष की राजनीति की बात की. मैं निजी बयान नहीं देता. मेरे कहने का मतलब है कि उनकी विचारधारा जहरीले सांप की तरह है.

हरिप्रसाद ने की थी ‘शैतान के उपदेश देने’ से तुलना : कर्नाटक के दिग्‍गज कांग्रेस नेता बीके हरिप्रसाद भी पीएम मोदी की ओर से मुसलमानों को विश्‍वास में लेने की पार्टी नेताओं से की गई अपील पर निशाना साध चुके हैं. बीजेपी की राष्‍ट्रीय कार्यकारणी की बैठक में पीएम ने कहा था, ‘मुस्लिम समुदाय के बोहरा, पसमांदा और पढ़े-लिखे लोगों तक हमें सरकार की नीतियां लेकर जानी हैं. हमें समाज के सभी अंगों से जुड़ना है और उन्हें अपने साथ जोड़ना है.’ इस पर टिप्‍पणी करते हुए हरिप्रसाद ने कहा था-पीएम का अपनी पार्टी के नेताओं को मुसलमानों को विश्वास में लेने के लिए कहना शैतान के धर्मग्रंथों का उपदेश देने जैसा है. चुनावों के पहले वे इस तरह की नौटंकी करना चाहते हैं.

Tags: BJP, Congress, Kantilal Bhuria, Lok Sabha Elections 2024, Mallikarjun kharge, Randeep Surjewala

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!