Sunday, July 14, 2024
Homeमहाराष्ट्र'इस जी20 समिट को याद रखा जाएगा...' : पीयूष गोयल ने कहा-...

‘इस जी20 समिट को याद रखा जाएगा…’ : पीयूष गोयल ने कहा- भारत बनेगा ग्लोबल ग्रोथ का इंजन

नई दिल्ली. केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने मंगलवार को कहा कि भारत भविष्य में दुनिया के विकास इंजन को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाएगा. सीएनएन-न्यूज18 के ‘जी20 टाउन हॉल’ में बोलते हुए, गोयल ने कहा कि 2047 तक देश 35 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी अर्थव्यवस्था होगी.

गोयल ने कहा, “विकासशील देश भविष्य में दुनिया का विकास इंजन होंगे और भारत इस ताकत को चलाएगा.” उन्होंने कहा, “अगले 30 वर्षों में, भारत की 30 साल से कम उम्र की यह युवा आबादी हमारी जीडीपी में कम से कम 30 ट्रिलियन डॉलर जोड़ने जा रही है.”

दिल्ली में होने वाले जी20 शिखर सम्मेलन पर बोलते हुए, केंद्रीय मंत्री गोयल ने कहा कि इसे “सबसे मेहमाननवाज़ों में से एक के रूप में याद किया जाएगा.” उन्होंने आगे कहा, “भारत अपने सॉफ्ट पावर को पेश करने में सक्षम था, जो वास्तव में भारत के लिए बहुत ही संतोषजनक है. 2047 तक भारत 35 ट्रिलियन डॉलर का सकल घरेलू उत्पाद होगा.”

केंद्रीय मंत्री ने वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में भारत की ‘तेजी से बढ़ती’ भूमिका पर भी प्रकाश डाला. उन्होंने कहा कि भारत वैश्विक वृद्धि का इंजन बनने की तरफ है और भारत की तरह ही अन्य विकासशील देशों को भी ऐसे अवसर मिलने चाहिए, जो कि हमारा लक्ष्य है.

वर्तमान युग भारत के लिए कितना महत्वपूर्ण है, इस पर प्रकाश डालते हुए गोयल ने कहा, ‘हमने प्रदर्शन करके दुनिया का विश्वास अर्जित किया है. हमने ही लोगों को सक्षम बनाया. हमने एक भी देश को निराश नहीं किया. लोग भारत के साथ और अधिक जुड़ना चाहते हैं. यह सूर्य और चंद्रमा के नीचे हमारा समय है.’

नई दिल्ली में जी20 शिखर सम्मेलन
जी20 नेताओं का शिखर सम्मेलन 9-10 सितंबर को नई दिल्ली के भारत मंडपम कन्वेंशन सेंटर और कुछ अन्य महत्वपूर्ण स्थानों पर आयोजित किया जाएगा. भारत ने 1 दिसंबर, 2022 को जी20 की अध्यक्षता ग्रहण की थी और तब से देश भर में बड़ी संख्या में बैठकें आयोजित की गई हैं, जिनका समापन 9-10 सितंबर को नई दिल्ली में शिखर सम्मेलन में होगा.

Tags: G20 Summit, GDP, India G20 Presidency, Indian economy, Piyush goyal

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!