Thursday, June 13, 2024
Homeमहाराष्ट्रक्या केंद्रीय कर्मचारियों को NPS के तहत मिलेगी न्यूनतम 40-45% पेंशन! सरकार...

क्या केंद्रीय कर्मचारियों को NPS के तहत मिलेगी न्यूनतम 40-45% पेंशन! सरकार ने दिया जवाब

हाइलाइट्स

न्यूनतम 40-45 फीसदी पेंशन का कोई प्रस्ताव नहीं
NPS की समीक्षा के लिए अप्रैल हुई थी कमिटी का गठन
अभी तक कमिटी की रिपोर्ट नहीं आई है

नई दिल्ली. देश में लंबे समय से पुरानी पेंशन स्कीम (OPS) और नई पेंशन स्कीम (NPS) को लेकर केंद्र सरकार और विपक्ष के बीच खींचतान चल रही है. कयास लगा जा रहे हैं कि सरकार केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दे सकती है और नई पेंशन स्कीम (NPS) के नियमों में बदलाव कर सकती है. क्या केंद्रीय कर्मचारियों को उनके आखिरी वेतन की 40 से 45 फीसदी न्यूनतम पेंशन मिलेगी?  इस सवाल के जवाब में राज्यसभा में वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने कहा कि सरकार के सामने ऐसा कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है.

गरअसल, राज्यसभा सांसद के डी सिंह ने प्रश्नकाल में सरकार से सवाल किया था कि क्या केंद्र सरकार एनपीएस के मिलने वाले मार्केट लिंक्ड पेंशन के फॉर्मूला को बदलने पर विचार कर रही है क्या कर्मचारियों की आखिरी सैलेरी  का 40 से 45 फीसदी पेंशन के तौर पर देने पर विचार कर रही है?

बता दें कि देश में एनपीएस 1 जनवरी, 2004 से लागू है. सरकार द्वारा अप्रैल 2023 में वित्त सचिव की अध्यक्षता में एनपीएस की समीक्षा के लिए कमिटी का गठन किया गया है, जो एक साल में नई पेंशन स्कीम को रिव्यू करेगी.

ये भी पढ़ें- GST Collection: जुलाई में हुआ रिकॉर्ड जीएसटी कलेक्शन, 5वीं बार 1.60 लाख करोड़ रुपये से अधिक की वसूली

अभी तक कमिटि ने रिपोर्ट नहीं सौंपी है
क्या एनपीएस के रिव्यू के लिए गठित कमिटी ने सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है? इस सवाल पर चौधरी ने कहा कि अभी कमिटी की रिपोर्ट नहीं आई है.

कई गैर-बीजेपी शासित राज्य ओपीएस की तरफ लौटे
हाल ही में, राजस्थान, झारखंड, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश और पंजाब सहित कई राज्यों ने पुरानी पेंशन स्कीम को वापस लेने का विकल्प चुना है. धीरे-धीरे ये बड़ा चुनावी मुद्दा बनता जा रहा है.

Tags: NPS, Pension fund

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!