Sunday, July 14, 2024
Homeमहाराष्ट्रराजस्थान: मंत्री प्रताप सिंह का बड़ा खुलासा, बोले- CM के रिश्तेदारों तक...

राजस्थान: मंत्री प्रताप सिंह का बड़ा खुलासा, बोले- CM के रिश्तेदारों तक को पट्टे के लिए रिश्वत देनी पड़ी थी

हाइलाइट्स

जयपुर हेरिटेज नगर निगम रिश्वत कांड
मंत्री प्रताप सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर किया खुलासा
खाचरियावास बोले- बहुत समझाया था उनको लेकिन नहीं माने

जयपुर. राजधानी जयपुर के हेरिटेज नगर निगम की मेयर मुनेश गुर्जर के पति सुशील गुर्जर की पट्टा रिश्वत कांड में एसीबी की ओर से की गई गिरफ्तारी के बाद आज अशोक गहलोत सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बड़ा खुलासा किया है. खाचरियावास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि भ्रष्टाचार की वजह से गरीबों को लाभ पहुंचाने में व्यवधान हुआ है. खाचरियावास ने यहां तक तक कह डाला कि सीएम के रिश्तेदारों तक को पट्टे के लिए रिश्वत देनी पड़ी थी.

जयपुर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में खाचरियावास ने सीएम से करप्शन के खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति के तहत इस मामले में महापौर के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर बड़ा मैसेज देने की मांग की. उन्होंने कहा कि इस मामले से सरकार की छवि खराब हो रही थी. पहले भी इस मामले में कई बार शिकायतें आईं थी. विधायक रफीक खान और अमीन कागजी के साथ जाकर हमने शिकायत भी की थी. लेकिन वे बाज नहीं आए.

खाचरियावास ने कहा कि मनमर्जी से पैसा लिया गया
बकौल खाचरियावास लगातार आ रही शिकायतों के बाद उन्होंने खुद कई बार कॉल कर कहा कि सीएम ने ये सौगात गरीबों को दी है. गरीब लोगों को 500 रुपये में पट्टे मिलेंगे तो दुआ मिलेगी. लेकिन ऐसा हुआ नहीं जिससे जो मर्जी आए पैसा लिया गया. उन्होंने कहा कि आज सुबह ही 44 पार्षद मेरे निवास पर पहुंचे. पार्षदों का कहना था कि वे इस मामले को बर्दाश्त नहीं करेंगे. महापौर को बर्खास्त करें. नहीं तो ऐसा न हो कि भाजपा और कांग्रेस के पार्षद मिलकर महापौर को बर्खास्त कर दें.

जयपुर: हेरिटेज नगर निगम मेयर पति रिश्वत कांड, घर के किचन में मिली पट्टे की फाइल, उसी के लिए ली थी रिश्वत

खाचरियावास बोले एसीबी ने पूरा पुख्ता काम किया है
प्रताप सिंह खाचरियावास ने ट्रेप करवाने के सवाल पर वे बोले कि ऐसा तो है नहीं कि वे छोटे से बच्चे हैं. एसीबी ने पूरा पुख्ता काम किया है. उनसे कैश बरामद हुआ है. उनकी रिकॉर्डिंग मौजूद है. ऐसे में अपने कर्मों के लिए दूसरों पर इल्जाम लगाने से क्या होगा. उल्लेखनीय है कि मेयर मुनेश गुर्जर कांग्रेस पार्टी से हैं. मेयर के पति को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने शुक्रवार रात को उनके आवास पर दो दलालों के साथ पट्टा जारी करने की एवज में दो लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था. बाद में उस पट्टे की फाइल भी मेयर के घर के किचन से बरामद हुई बताई जा रही है.

Tags: Anti corruption bureau, Corruption case, Jaipur nagar nigam, Jaipur news, Rajasthan news

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!