Saturday, May 18, 2024
Homeमहाराष्ट्रJaipur: SMS अस्पताल में महिला केयर टेकर से मरीज ने की छेड़छाड़!...

Jaipur: SMS अस्पताल में महिला केयर टेकर से मरीज ने की छेड़छाड़! बवाल मचा, आरोपी पुलिस हिरासत में

हाइलाइट्स

सवाई मानसिंह अस्पताल का मामला
महिला को ऑनलाइन होम केयर से केयर टेकर से बुलाया गया था
अस्पताल प्रशासन ने भी किया मामले की जांच के लिए कमेटी का गठन

जयपुर. राजस्थान के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एसएमएस में निजी केयर टेकर महिला के साथ छेड़छाड़ (Molestation) का मामला सामने आया है. छेड़छाड़ का यह आरोप केयर टेकर महिला ने एक मरीज पर लगाए हैं. उसके बाद वहां बवाल मच गया. मामला सामने आते ही मौके पर पहुंची ने पुलिस ने अस्पताल के कॉटेज वार्ड से आरोपी मरीज को हिरासत में लिया है. हिरासत में लिए गए मरीज का नाम संदीप बताया जा रहा है. वह अलवर का रहने वाला है.

पुलिस के अनुसार संदीप 12 जुलाई को सवाई मानसिंह अस्पताल के सर्जरी विभाग में भर्ती हुआ था. मोटापे को कम करने के इलाज के लिए इस मरीज की बिडियाट्रिक सर्जरी की जानी थी. हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती होने वाले इस शख्स ने मंगलवार शाम को ऑनलाइन होम केयर से केयर टेकर के तौर पर एक महिला को बुलाया. उसी महिला की तरफ से युवक के खिलाफ यह शिकायत दी गई है.

पीड़िता बोली शख्स ने छोटी बहन की केयर करने के लिए बुलाया था
केयर टेकर महिला का आरोप है कि मरीज संदीप ने उसके साथ छेड़छाड़ की. आरोपी ने उसे अपनी छोटी बहन की केयर के बहाने बुलाया था. आरोपी ही उसे नीचे से ऊपर कॉटेज रूम में लेकर आया था. पीड़िता के अनुसार जब वहां पर कोई महिला नजर आई नहीं तो उसने इस बारे में पूछताछ की. आरोप है कि उसी दौरान युवक ने उसके साथ छेड़छाड़ की.

पुलिस ने आरोपी मरीज को लिया हिरासत में
महिला के इन आरोपों की सुगबुगाहट के बाद वहां हड़कंप मच गया. सूचना पर एसएमएस थाना पुलिस मौके पर पहुंची. उसने आरोपी मरीज संदीप को हिरासत में ले लिया. एसएमएस थानाप्रभारी नवरतन धौलिया ने बताया कि फिलहाल महिला ने जो शिकायत दी है उसमें दुष्कर्म की बात नहीं कही गई है. मामले की जांच की जा रही है. एसएमएस अस्पताल के अधीक्षक डॉक्टर अचल शर्मा ने कहा कि अस्पताल में एक मरीज भर्ती था. उसे पुलिस उठाकर ले गई है. इस विषय पर एसएमएस थानाधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है.

अस्पताल प्रशासन ने गठित की जांच कमेटी
इसके साथ ही मामले की गंभीरता को देखते हुए अस्पताल प्रशासन की तरफ से एक कमेटी भी गठित की गई है. वह पूरे मामले की आतंरिक तौर पर जांच करेगी. बहरहाल इस पूरी घटना से एसएमएस हॉस्पिटल में सेफ्टी सिक्योरिटी को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. कोई भी निजी केयर होम की महिला कैसे किसी के वार्ड में जा सकती हैं. इस बात का अस्पताल प्रशासन के पास कोई जवाब नहीं है.

Tags: Crime News, Jaipur news, Rajasthan news, Woman molestation

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!