Thursday, May 23, 2024
Homeमहाराष्ट्रRPSC Exam Bribery Case: कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा भी घिरीं,...

RPSC Exam Bribery Case: कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा भी घिरीं, ACB की FIR में आया नाम, सरकार ने दी सफाई

हाइलाइट्स

राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कार्रवाई अपडेट
आरपीएससी की सदस्य हैं कुमार विश्वास की पत्नी मंजू शर्मा
परिवादी का आरोपी आरोपियों ने मंजू शर्मा के जरिए पास करवाने की बात कही थी

जयपुर. राजस्थान लोक सेवा आयोग की ईओ परीक्षा में पास करवाने के बदले लाखों रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किए गए कांग्रेस नेता गोपाल केसावत की गिरफ्तारी के बाद आयोग की सदस्य मंजू शर्मा (Manju Sharma) भी आरोपों के घेरे में आ गई हैं. आरपीएससी की सदस्य मंजू शर्मा प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास की पत्नी हैं. उनके साथ ही आयोग की एक अन्य सदस्य संगीता आर्य भी जांच के घेरे में है. इन दोनों का नाम एसीबी की तरफ से दर्ज की गई एफआईआर में शामिल किया गया है. परिवादी ने आरोपियों पर इन दोनों के नाम से रिश्वत लेने का आरोप लगाया है.

एसीबी मंजू शर्मा और संगीता आर्य की भूमिका की जांच कर रही है. वहीं इस मामले में मंजू शर्मा का नाम आने के बाद इस पर अब सियासत और गरमा गई है. बीजेपी ने मंजू शर्मा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. बीजेपी प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने सवाल किया कि आखिर राजस्थान की कांग्रेस सरकार की क्या मजबूरी रही थी कि कुमार विश्वास की पत्नी को आयोग की सदस्य बनाया. वहीं गहलोत सरकार ने इस मामले में सफाई दी है. गहलोत सरकार के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि आरोप लगाने से कोई दोषी नहीं बनता. अभी एसीबी की जांच जारी है.

एसीबी डीजी बोले मामला ठगी का भी हो सकता है
वहीं एसीबी के कार्यवाहक डीजी हेमंत प्रियदर्शी का कहना है कि गोपाल केशावत का अभी तक आरपीएससी के किसी भी सदस्य से कोई संपर्क सामने नहीं आया है. ऐसे में यह मामला ठगी का भी सकता है. पूरे मामले की विस्तृत जांच की जा रही है. उसके बाद ही स्थितियां साफ हो पाएंगी.

एसीबी ने केसावत समेत चार आरोपियों को किया था गिरफ्तार
उल्लेखनीय है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने शनिवार को कांग्रेस नेता एंव घुमंतू बोर्ड के पूर्व चेयरमैन गोपाल केसावत समेत चार लोगों को 18.50 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था. केसावत को चेयरमैन रहते हुए राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त था. परिवादी के मुताबिक आरोपी केसावत ने कहा था कि वह आयोग की सदस्य मंजू शर्मा के जरिये उसे पास करवा देगा. परिवादी के बयानों के आधार पर ही मंजू शर्मा और संगीता आर्य का नाम एफआईआर में शामिल किया गया है.

Rajasthan ACB Big Action: रिश्वत लेते पूर्व राज्यमंत्री केसावत समेत 4 गिरफ्तार, 25 लाख रुपये वसूले थे 

बीजेपी फिर से गहलोत सरकार पर हमलावर हो गई है
भ्रष्टाचार का एक और बड़ा मामला सामने आने के बाद बीजेपी फिर से गहलोत सरकार पर हमलावर हो गई है. राजस्थान में गहलोत सरकार पहले से ही आरपीएससी समेत कई पेपर लीक मामलों से घिरी है. शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक केस में तो आरपीएससी के सदस्य बाबूलाल कटारा की गिरफ्तारी तक हो चुकी है. अब फिर से आरपीएससी की परीक्षा में भ्रष्टाचार का मामला सामने से हड़कंप मचा हुआ है.

Tags: Anti corruption bureau, Bribery, Jaipur news, Kumar vishwas, Rajasthan news

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!