Thursday, February 22, 2024
Homeमहाराष्ट्रछात्र ने ब्लैकबोर्ड पर लिखा 'जय श्री राम', टीचर को नहीं आया...

छात्र ने ब्लैकबोर्ड पर लिखा ‘जय श्री राम’, टीचर को नहीं आया पसंद, कर दी बेरहमी से पिटाई, हुआ गिरफ्तार

हाइलाइट्स

यूपी के बाद अब जम्मू से एक छात्र की पिटाई का मामला सामने आया है.
यहां एक छात्र को बोर्ड पर जय श्री राम लिखने के कारण पीटा गया है.
पुलिस ने आरोपी टीचर और प्रिंसिपल के खिलाफ FIR दर्ज की है.

जम्मू: मुजफ्फरनगर के निजी स्कूल में एक बच्चे की पिटाई का मामला अभी शांत नहीं हुआ था कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले के एक सरकारी अपर सेकेंडरी स्कूल से नया मामले सामने आ गया. दरअसल कठुआ जिले के बनी इलाके में एक प्रिंसिपल और एक शिक्षक पर 10वीं कक्षा के एक छात्र को ब्लैक बोर्ड पर ‘जय श्री राम’ लिखने के लिए शारीरिक दंड देने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार पुलिस के मुताबिक घटना शुक्रवार की है और एफआईआर दर्ज कर ली गई है. छात्र को इस तरह पीटा गया कि उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. हालांकि पुलिस ने आरोपी स्कूल शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक प्रिंसिपल पर भी किशोर छात्र के साथ मारपीट करने का आरोप है और वह फरार है. उन्होंने बताया कि पीड़ित छात्र का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

पढ़ें- मुजफ्फरनगर में बच्चे की पिटाई का मामला, आरोपी टीचर के खिलाफ FIR दर्ज

घटना की खबर फैलते ही बनी शहर में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन हुआ. आरोपियों की पहचान स्कूल के प्रिंसिपल मोहम्मद हाफिज और लेक्चरर फारूक अहमद के रूप में हुई है. दोनों पर आईपीसी की धारा 323 (जानबूझकर चोट पहुंचाना), 342 (गलत तरीके से कैद करना), 504 (जानबूझकर अपमान करना) और 506 (आपराधिक धमकी), और किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम की धारा 75 (बच्चे के प्रति क्रूरता) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

कठुआ के उपायुक्त राकेश मिन्हास ने घटना की जांच के लिए तीन-सदस्यीय समिति का गठन किया है. पुलिस ने कहा कि 25 अगस्त को कुलदीप सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके बेटे को स्कूल के शिक्षक फारूक अहमद और स्कूल के प्रधानाचार्य मोहम्मद हाफिज ने पीटा था. किशोर न्याय अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत पुलिस थाने बनी में मामला दर्ज किया गया और स्थानीय थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक टीम ने स्कूल परिसर का दौरा किया और शिक्षक को पकड़ लिया.

FIR में कहा गया है कि ‘बच्चे ने बोर्ड पर जय श्री राम लिखा था. जब फारूक क्लास में आया और उसने ये देखा तो उसने बाकी स्टूडेंट्स के सामने ही बच्चे को क्लास से बाहर ले गया और बुरी तरह पीटा. फिर वह लड़के को प्रिंसिपल के कमरे में ले गया और दोनों ने कमरे को बंद कर दिया और बच्चे की पिटाई की. उन्होंने उससे कहा कि अगर उसने दोबारा ऐसी हरकत की तो वे उसे मार डालेंगे. इस पिटाई से लड़के को काफी गंभीर चोट आई और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.’ (भाषा इनपुट के साथ)

Tags: Jammu kashmir, Jammu kashmir news

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!