Friday, July 19, 2024
Homeमहाराष्ट्रPHOTOS ...ताकि बड़े होकर हमारे नौनिहाल मुस्कुराएं, आदिवासी समाज के बच्चों की...

PHOTOS …ताकि बड़े होकर हमारे नौनिहाल मुस्कुराएं, आदिवासी समाज के बच्चों की अनूठी पहल

05

सुबह पांच बजे से ये बच्चे और युवा पहले गीली मिट्टी तैयार करते हैं, फिर उसमें किसी भी प्लांट का एक बीज जिसमें सखुआ, महुआ, कहुवा, शरीफा, जामुन, ईमली जैसे कई प्लांट शामिल हैं, उसमें डाल कर मिट्टी का गोला बना लेते हैं. फिर उसे किसी बर्तन या टोकरी में उठा जंगल मे ले जाकर फेंक देते हैं.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!