Saturday, May 18, 2024
Homeमहाराष्ट्रमणिपुर वीडियो: मुख्य आरोपी गिरफ्तार, सीएम बिरेन सिंह ने कहा- दोषियों को...

मणिपुर वीडियो: मुख्य आरोपी गिरफ्तार, सीएम बिरेन सिंह ने कहा- दोषियों को नहीं बख्शा जाएगा

हाइलाइट्स

मणिपुर में दो महिलाओं को भीड़ द्वारा निर्वस्त्र कर घुमाया गया.
घटना का वीडियो सामने आने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई.

नई दिल्ली. मणिपुर में दो महिलाओं के साथ सामूहिक तौर पर दुर्व्यवहार का वीडियो सामने आने के बाद बड़े पैमाने पर लोगों के बीच आक्रोश पैदा हो गया है. इस वीडियो में दोनों महिलाओं को भीड़ द्वारा नग्न कर घुमाया जा रहा है. वायरल वीडियो पर राजनीतिक नेताओं, फिल्मी सितारों और देश भर के लोगों ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है. वहीं इस मामले में मणिपुर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पहली गिरफ्तारी कर ली है.

पुलिस ने मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है
आरोपी की पहचान खुरिएम हीरो दास के रूप में हुई है. वीडियो में एक समुदाय के कुछ पुरुषों ने दूसरे समुदाय की दो महिलाओं की निर्वस्त्र परेड कराई. ‘इंडिजीनियस ट्राइबल लीडर्स फोरम’ (आईटीएलएफ) के बृहस्पतिवार को प्रस्तावित मार्च से एक दिन पहले यह वीडियो सामने आया है.

मणिपुर के वायरल वीडियो पर कांग्रेस ने पूछा सवाल
मणिपुर में कुछ पुरुषों द्वारा दो महिलाओं को नग्न घुमाए जाने का 4 मई का वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस ने गुरुवार को केंद्र की आलोचना की और पूछा कि नरेंद्र मोदी सरकार “सब ठीक है” की तरह व्यवहार करना कब बंद करेगी. पार्टी ने यह भी पूछा कि मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह को कब बदला जाएगा. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि मणिपुर में बड़े पैमाने पर जातीय हिंसा भड़के 78 दिन हो गए हैं और उस भयावह घटना को 77 दिन हो गए हैं, जहां दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाया गया और कथित तौर पर बलात्कार किया गया.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मणिपुर की घटना बताया अमानवीय
उन्होंने कहा, अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज किए हुए 63 दिन हो गए हैं और अपराधी अभी भी पकड़ से बाहर हैं. केंद्रीय मंत्री ने बृहस्पतिवार रात ट्वीट किया, ‘मणिपुर से आ रहा दो महिलाओं के यौन उत्पीड़न का भयावह वीडियो निंदनीय और पूरी तरह अमानवीय है. मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह जी से बात की है, जिन्होंने मुझे बताया कि मामले की जांच की जा रही है तथा आश्वस्त किया कि दोषियों को सजा दिलाने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी.’ वहीं बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान और अक्षय कुमार ने भी ट्वीट कर प्रतिक्रिया जाहिर की.

राहुल गांधी ने साधा निशाना
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मणिपुर की स्थिति को लेकर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि पूर्वोत्तर राज्य में जब भारत के विचार पर हमला किया जा रहा है तो INDIA चुप नहीं रहेगा. राहुल गांधी की यह टिप्पणी वीडियो सामने आने के बाद आई है, जिसमें जातीय हिंसा प्रभावित मणिपुर में दो महिलाओं को नग्न कर घुमाया गया. पुलिस ने बताया कि थाउबल जिले के नोंगपोक सेकमई पुलिस थाने में अज्ञात सशस्त्र बदमाशों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म और हत्या का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने एक बयान में बताया कि दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है.

शर्मनाक, निंदनीय: मणिपुर में महिलाओं पर हमले पर बोले केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को जातीय हिंसा प्रभावित मणिपुर में दो महिलाओं को नग्न कर घुमाने की घटना की निंदा की. साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राज्य की मौजूदा स्थिति पर ध्यान देने और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करने का आग्रह किया. अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘मणिपुर की घटना बेहद शर्मनाक और निंदनीय है. भारतीय समाज में इस तरह के जघन्य कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है.’

‘मानवता के खिलाफ अपराध’: महिलाओं की परेड के वीडियो पर मणिपुर के मुख्यमंत्री
मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने कथित तौर पर पुरुषों के एक समूह द्वारा दो महिलाओं को सड़क पर “नग्न घुमाए जाने” के 4 मई के वीडियो पर बुधवार को प्रतिक्रिया व्यक्त की और इसमें शामिल लोगों के लिए मृत्युदंड का आश्वासन दिया. सीएनएन-न्यूज18 से बात करते हुए उन्होंने कहा, ”यह मानवता के खिलाफ अपराध है और अगर यह सच पाया गया तो राज्य सरकार दोषियों को पकड़ने और उन्हें मौत की सजा देने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी. यह एक जघन्य अपराध है और मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं.”

संसद में मणिपुर मुद्दा उठाएगी तृणमूल!
बुधवार को, तृणमूल कांग्रेस ने संसद सत्र के दौरान मणिपुर में जातीय संघर्ष के मुद्दे को संबोधित करने की अपनी प्रतिबद्धता की घोषणा की. पार्टी ने पूर्वोत्तर राज्य में पुरुषों के एक समूह द्वारा दो महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और सार्वजनिक अपमान से जुड़ी दुखद घटना की कड़ी निंदा की.

Tags: Manipur, Manipur violence

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!