Saturday, May 18, 2024
Homeमहाराष्ट्रताजिया जुलूस के दौरान दिल्ली, UP, बिहार में हुई हिंसा, चले लाठी-डंडे...

ताजिया जुलूस के दौरान दिल्ली, UP, बिहार में हुई हिंसा, चले लाठी-डंडे और पत्थर, उपद्रवियों ने पुलिस को बनाया निशाना

हाइलाइट्स

‘ताजिया’ मुहर्रम जुलूस के दौरान देश भर से झड़प की खबरें आई हैं.
दिल्ली से लेकर बिहार तक उपद्रवियों ने उपद्रव किया है.
इसके अलावा जुलूस के दौरान करंट लगने की भी घटनाएं घटी हैं.

नई दिल्ली: शनिवार, 29 जुलाई को ‘ताजिया’ मुहर्रम (Muharram 2023) जुलूस से संबंधित घटनाओं के दौरान पूरे भारत में कम से कम आठ लोग मारे गए और 10 पुलिस कर्मियों सहित कई घायल हो गए. वाराणसी के दोषीपुरा इलाके में शिया और सुन्नी समुदायों के बीच झड़प (Muharram Violence) हुई, जिसमें कई लोग घायल हो गए और वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. दिल्ली में लोग पुलिस से भिड़ गए और उन पर पथराव किया. उन्हें पश्चिमी दिल्ली के नांगलोई में निर्धारित मार्ग बदलने से रोक दिया गया.

इंडिया टुडे के अनुसार दिल्ली में पुलिस पर पथराव किया गया, जिसमें 12 पुलिसकर्मी घायल हो गये. इसके अलावा, झड़पों में कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि झड़प के बाद अनियंत्रित भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा. पुलिस उपायुक्त (आउटर) हरेंद्र सिंह के अनुसार, झड़प तब शुरू हुई जब कुछ ताजिया जुलूस आयोजकों ने अपने जुलूस को पहले से तय किए गए मार्ग से हटाने की कोशिश की.

पढ़ें- UP News: वाराणसी में ताजिया को लेकर दो गुटों में जमकर हुआ पथराव, 100 से ज्यादा घायल, कई वाहन क्षतिग्रस्त

डायवर्जन पर आपत्ति के बाद पुलिस कर्मियों पर पथराव किया गया. डीसीपी हरेंद्र सिंह ने कहा कि स्थिति को नियंत्रित करने और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हल्के लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा. डीसीपी ने कहा, फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है.

UP में झड़पें
वाराणसी में मुहर्रम के जुलूस के दौरान ‘शिया’ और ‘सुन्नी’ मुस्लिम समुदायों के सदस्यों के बीच हिंसक लड़ाई और पथराव हुआ, जिसके परिणामस्वरूप कुछ लोग घायल हो गए. हालांकि पुलिस ने कहा कि घायल लोगों की सटीक संख्या निर्धारित नहीं की जा सकी. उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में एक अन्य घटना में, मुहर्रम जुलूस में डीजे के हाई-वोल्टेज करंट प्रवाहित तारों के संपर्क में आने से दो की मौत हो गई और 52 लोगों को करंट लग गया. अमोरोहा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) आदित्य लांगेह के अनुसार, मृतकों की पहचान शानू (35) और ओवैस (13) के रूप में हुई है. उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से घायल चार लोगों को इलाज के लिए दिल्ली रेफर किया गया है.

यह भी पढ़ें- मुहर्रम पर अयोध्या में दिखी गंगा-जमुनी तहजीब, सरयू में प्रवाहित हुई ताजिया, देखें PHOTOS 

झारखंड की घटनाएं
झारखंड के बोकारो में शनिवार को मुहर्रम का जुलूस निकालते समय बिजली की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि 13 अन्य घायल हो गए. यह घटना तब हुई जब ‘ताज़िया’ 11,000 हाई-वोल्टेज टेंशन तार के संपर्क में आ गया, जिसके परिणामस्वरूप विस्फोट हो गया. मृतकों की पहचान साजिद अंसारी (18), आशिफ रजा (21), गुलाम हुसैन (19) और इनामुल रब (34) के रूप में हुई. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने चार लोगों की मौत पर दुख जताया है.

गुजरात में घटनाएं
गुजरात के राजकोट जिले में मुहर्रम का जुलूस निकालते समय करंट लगने से दो लोगों की जान चली गई, जबकि 22 अन्य घायल हो गए. यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना शहर के रसूल पारा इलाके में हुई जब एक ताजिया 22 केवी ओवरहेड बिजली के तार के संपर्क में आ गया. मृतकों की पहचान जुनैद मजोठी (22) और साजिद समा (20) के रूप में हुई.

बिहार में घटनाएं
बिहार के भागलपुर जिले में शनिवार को मुहर्रम के जुलूस के दौरान पटाखे फोड़े जाने से एक लड़की घायल हो गई. जबकि कैमूर जिले में दो समूहों के बीच झड़प की सूचना मिली, जिससे उन इलाकों में तनाव फैल गया. दोनों जगहों पर पुलिस ने हस्तक्षेप कर स्थिति को नियंत्रित कर लिया. भागलपुर जिले के नौगछिया अनुमंडल में एक जुलूस के दौरान पटाखा विस्फोट में दूसरे समुदाय की 16 वर्षीय लड़की घायल हो गई. वहीं भभुआ में, जहां कैमूर जिले का मुख्यालय है, दो समुदायों के सदस्यों के बीच उस समय झड़प हो गई जब एक ताजिया जुलूस शहर के एकता चौक को पार कर रहा था, जिसके बाद जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस अधीक्षक को कमान संभालनी पड़ी. (PTI इनपुट के साथ)

Tags: Muharram, Violence

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!