Saturday, May 18, 2024
Homeमहाराष्ट्रFlood Alert: बारिश ने कर दिया पानी का कोटा फुल, दिल्ली में...

Flood Alert: बारिश ने कर दिया पानी का कोटा फुल, दिल्ली में यमुना के उफान ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, LG ने बुलाई बैठक

नई दिल्ली. देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्से में 5 से 10 जुलाई के बीच पांच दिनों में हुई मूसलाधार बारिश ने देशभर में पानी का कोटा फुल कर दिया है. 30 जून को भारत में सामान्य से 10 फीसदी कम बारिश दर्ज की गई थी, वहीं 11 जुलाई आते-आते देश में 2 फीसदी सरप्लस बारिश रिकॉर्ड दी गई.

उत्तर भारत के कई राज्यों में हुई इस भारी बारिश ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की धड़कन बढ़ा दी है. यहां यमुना का जलस्तर खतरे के निशाना के काफी ऊपर पहुंच गया है. सरकारी एजेंसियों के मुताबिक, बुधवार रात 10 बजे तक यह 208 मीटर के स्तर को पार गया, जिससे शहर में यमुना नदी से सटे निचले इलाके जलमग्न हो गए.

पहली बार दिखी यमुना में ऐसी उफान
दिल्ली के पास यमुना में ऐसी उफान पहली बार देखी गई है. इससे पहले वर्ष 1978 में नदी का जलस्तर 207.49 मीटर रिकार्ड गया था. हालांकि बुधवार दिन में 45 साल पुराना यह रिकॉर्ड टूट गया. इसे खकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से लेकर उपराज्यपाल वीके सक्सेना तक एक्शन में आ गए हैं.

ये भी पढ़ें- दिल्‍ली पर बाढ़ का खतरा बढ़ा, हिमाचल के लिए ताजा अलर्ट ने बढ़ाई चिंता, जानें IMD की भविष्यवाणी

सीएम केजरीवाल ने बुधवार शाम आपात बैठक बुलाई और प्रभावित क्षेत्रों से लोगों को सुरक्षित निकालने के निर्देश दिए. इसके साथ ही उन्होंने निचले इलाकों में रह रहे लोगों से घर खाली करने की अपील की. उन्होंने ट्विटर पर जारी एक वीडियो संदेश में कहा, ‘यह भी देखने में आ रहा है कि कई लोग बाढ़ देखने और वहां सेल्फी व वीडियो बनाने जा रहे हैं. इस स्थिति में लोग वहां न जाएं, क्योंकि अगर अचानक जलस्तर बढ़ गया तो जान को खतरा हो सकता है.’

LG ने बुलाई DDMA की बैठक
उधर दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने यमुना के बढ़ते जलस्तर को लेकर बृहस्पतिवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक बुलाई है. सक्सेना ने यमुना नदी का निरीक्षण करते हुए संवाददाताओं से कहा कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के कर्मियों को तैनात किया गया है और निचले इलाकों में रहने वाले सभी लोगों को निकाला जाएगा.

सक्सेना ने उम्मीद जतायी कि अगले कुछ दिनों में यमुना का जलस्तर कम हो जाएगा, क्योंकि हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से पानी छोड़ा जाना कम हो गया है. उन्होंने कहा, ‘एनडीआरएफ की कई टीम तैनात कर दी गई हैं. कोई भी प्रभावित क्षेत्र अछूता नहीं रहेगा और हम सभी को सहायता प्रदान करेंगे.’

बता दें कि हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर और दिल्ली सहित उत्तर-पश्चिम क्षेत्र के कई स्थानों पर सामान्य से 1,000 प्रतिशत से ज्यादा बारिश वर्षा हुई. उधर भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने अपनी ताज़ा पूर्वानुमान में कहा कि उत्तराखंड और इससे सटे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश का दौर जारी रहने की संभावना है. IMD ने इसके साथ ही बताया कि पूर्वोत्तर भारत, सिक्किम, बिहार और उत्तर प्रदेश में 13 जुलाई तक भारी बारिश जारी रहेगी.

Tags: Delhi news, Flood alert, Rain alert, Yamuna River

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!