Sunday, July 14, 2024
Homeमहाराष्ट्रभाजपा के आशीर्वाद से मुख्यमंत्री बने थे नीतीश कुमार, ललन सिंह को...

भाजपा के आशीर्वाद से मुख्यमंत्री बने थे नीतीश कुमार, ललन सिंह को बीजेपी ने दिलाई पहचान-चिराग पासवान

हाइलाइट्स

एलजेपीआर के प्रमुख चिराग पासवान ने नीतीश कुमार पर फिर निशाना साधा.
भाजपा को धोखा देकर लालू यादव के साथ जाने को लेकर ललन सिंह को घेरा.
सांसद चिराग पासवान ने राहुल गांधी की सजा पर स्टे को न्यायिक प्रक्रिया कहा.

पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (3 अगस्त) को बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के बिहार के सांसदों के साथ मीटिंग की थी. उन्होंने इसमें कहा था राजनीति में कई बार बड़े लक्ष्य के लिए त्याग और कुर्बानी करनी पड़ती है. बीजेपी इसमें सदा तत्पर रही है. बीजेपी ने कई मौकों पर इसके लिए त्याग किया है. पीएम मोदी ने बैठक में सांसदों से कहा कि एनडीए को मजबूत बनाने के लिए भाजपा ने क्षेत्रीय दलों को आगे किया. इसी क्रम में बिहार में भाजपा की सीट अधिक होने के बाद जी नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाया. पीएम मोदी की इस बात का लोक जनशक्ति पार्टी रामविलास के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने समर्थन किया है.

दिल्ली से पटना पहुंचे चिराग पासवान ने एयरपोर्ट पर संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाया गया वह भारतीय जनता पार्टी का ही आशीर्वाद था. वहीं, लोजपा सांसद ने जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पर हमला बोलते हुए लोजपा सांसद ने कहा कि लालू जी का विरोध करने पर ही ललन सिंह का उदय हुआ था, लेकिन आज उन्हीं की गोद में जा बैठे हैं. चिराग पासवान ने कहा है कि ललन सिंह को भाजपा ने पहचान दिलाई और वे भूल गए हैं कि उन्हीं के वोट के चलते वो सांसद बने हैं.

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के द्वारा पार्लियामेंट बहस के दौरान अमर्यादित तरीके से किए गए सवाल-जवाब पर चिराग पासवान ने कहा कि पार्लियामेंट का सदन बहस के लिए होता है. उन्होंने कहा कि जिस तरह से जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के द्वारा सदन में जिस भाषा का प्रयोग किया गया, यह ठीक नहीं. देश के इतिहास में पहली बार ऐसा अविश्वास प्रस्ताव लेकर आया गया जो सिर्फ प्रधानमंत्री जी को बोलने के लिए बाध्य करने के लिए है. यह अविश्वास प्रस्ताव लाने की मंशा व प्रक्रिया नियमों का दुरुपयोग है.

चिराग ने कहा, प्रधानमंत्री जी के द्वारा यह कहे जाने के बाद भी 10 तारीख को जवाब देंगे, जिसके बाद भी सदन नहीं चलने देना, यह सोच गलत है. वहीं, कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए चिराग ने कहा कि एक राजनीतिक दल को ट्रांसफर पोस्टिंग का लाभ मिल जाए यह वही केजरीवाल हैं. जिनकी पर्चियां लेकर लोग घूमते थे और आज उनका समर्थन कर रहे हैं.

मोदी सरनेम केस में सर्वोच्च न्यायालय ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की सजा स्टे पर चिराग पासवान ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह न्यायालय की न्यायिक प्रक्रिया का हिस्सा है. सुप्रीम कोर्ट ने जिस तरह से उनकी सजा पर रोक लगाई है इससे यकीनन उनकी सदस्यता वापस होती है. सजा देने का भी काम में न्यायालय के द्वारा किया गया था और लोअर कोर्ट एवं हाईकोर्ट ने उन्हें सजा दी थी.

सुप्रीम कोर्ट के द्वारा सजा पर रोक लगा दी गई यह न्यायिक प्रक्रिया का हिस्सा है, उसके और तथ्य आएंगे तो न्यायालय अपना आदेश देगा. वहीं, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के द्वारा कहा जाना कि षड्यंत्र के द्वारा उन्हें फंसाया गया था. इसके जवाब में उन्होंने कहा कि षड्यंत्र के तहत फसाना राजनीतिक मापदंडों में तो समझ में आता है, लेकिन जहां तक ज्यूडिशरी मामला वहां उसमें इस बातों का उल्लेख करना ठीक नहीं है. इसका मतलब आप न्यायालय पर उंगली उठा रहे हैं.

चिराग ने कहा, उस वक्त भी जिस तरह हाईकोर्ट में जो तथ्य सामने आए जिस पर हाईकोर्ट ने सजा सुनाई, और आज जो तथ्य सामने आए उस पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाई. हमलोगों न्यायालय पर भरोसा है और जो भी उनका फैसला आएगा उनका सम्मान करुंगा. सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगाई उसका भी सम्मान किया और हाई कोर्ट ने जो फैसला सुनाया उसका भी सम्मान किया. वहीं, आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा लगातार प्रदर्शन किए जाने पर उन्होंने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी रामविलास आशा कार्यकर्ताओं के साथ है और उनके लिए सड़क से सदन तक लड़ाई लड़ेगी.

Tags: Bihar politics, Chirag Paswan, CM Nitish Kumar, Lalan Singh, Loksabha Election 2024

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!