Thursday, May 23, 2024
Homeमहाराष्ट्रपीएम मोदी आज करेंगे प्रगति मैदान के पुनर्निर्मित आईटीपीओ काम्पलेक्स का उद्घाटन......

पीएम मोदी आज करेंगे प्रगति मैदान के पुनर्निर्मित आईटीपीओ काम्पलेक्स का उद्घाटन… क्या है खास

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को दिल्ली में स्थित पुनर्विकसित भारत व्यापार संवर्धन संगठन (ITPO) परिसर का उद्घाटन करेंगे. यह जगह पर सितंबर में जी20 नेताओं की बैठक की मेजबानी की जाएगी. 123 एकड़ में फैला ITPO परिसर क्षेत्र प्रगति मैदान के नाम से चर्चित है. जो भारत का सबसे बड़ा बैठकें, प्रोत्साहन, सम्मेलन और प्रदर्शनियां करने वाला स्थल है.

सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री मोदी हवन पूजन के साथ उद्घाटन समारोह की शुरुआत की, इसके बाद जिन मजदूरों ने इसके निर्माण में सहयोग किया उन्हें सम्मानित किया गया. शाम को प्रधानमंत्री मोदी 6.30 बजे वापस ITPO लौटेंगे जहां पर एक विशाल उद्घाटन समारोह का आयोजन किया जाएगा. इसके साथ ही इस मौके पर G20 से जुड़ा हुआ टिकट और सिक्का भी जारी किया जाएगा. प्रधानमंत्री मोदी का भाषण करीब 7.05 मिनिट पर शुरू होगा.

ITPO कॉम्पलेक्स के पुनर्निर्माण से जुड़ी खास बातें
प्रगति मैदान पुनर्विकास परियोजना के हिस्से के रूप में IECC (एकीकृत प्रदर्शनी और -कन्वेंशन सेंटर) को एक आधुनिक परिसर के रूप में तैयार किया गया है. ऐसी ढके हुए या इनडोर परिसर जहां कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है उस मामले में यह जगह दुनिया के शीर्ष 10 प्रदर्शनी और सम्मेलन परिसरों में ITPO का नाम भी  शुमार है. यह अपनी खूबसूरती, सुविधाओं और निर्माण के मामले में जर्मनी के हनोवर प्रदर्शनी केंद्र, शंघाई में राष्ट्रीय प्रदर्शनी और कन्वेंशन सेंटर (NECC) जैसे बड़े नामों को टक्कर देता है.

कन्वेंशन सेंटर के लेवल-3 में 7,000 लोगों के बैठने की भव्य क्षमता मौजूद है, जो ऑस्ट्रेलिया के प्रतिष्ठित सिडनी ओपेरा हाउस की करीब 5,500 लोगों की बैठने की क्षमता से बहुत ज्यादा है.

इसके अलावा, प्रदर्शनी हॉल के तौर पर 7 बेहद शानदार स्थल हैं जहां, कंपनी और प्रदर्शकों को अपने विचार और नवाचार साझा करने के लिए एक मंच मिलता है. जिससे उन्हें अपने उत्पाद या विचार से जुड़े दर्शकों या लोगों के साथ जुड़ने, व्यवसाय को बढ़ावा देने और नेटवर्किंग के अवसर मिलते हैं.

अन्य असाधारण खूबियों में, IECC में 3,000 व्यक्तियों के बैठने की क्षमता वाला एक शानदार एम्फीथिएटर भी शामिल है, जो प्रदर्शन, सांस्कृतिक शो और मनोरंजन कार्यक्रमों के लिए मंच तैयार करता है

इस परिसर में करीब 5500 गाड़ियों की पार्किंग के लिए भी जगह मौजूद है. सिग्नल फ्री सड़कों यह सुनिश्चित करती हैं कि यहां आने वाले बगैर किसी परेशानी के इधर पहुंच सकें.

G20 नेताओं का शिखर सम्मेलन 9-10 सितंबर को दिल्ली में होने वाला है. नई दिल्ली में होने जा रहा 18वां G20 राष्ट्राध्यक्षों और शासनाध्यक्षों का शिखर सम्मेलन, पूरे साल भर  मंत्रियों, वरिष्ठ अधिकारियों और नागरिक समाज ने जो सभी G20 बैठकों का आयोजन का था, दिल्ली में होने वाला कार्यक्रम उसका समापन होगा.

भारत 1 दिसंबर, 2022 से साल भर चलने वाले G20 अध्यक्ष पद की अध्यक्षता कर रहा है. इस विशाल आयोजन के लिए राष्ट्रीय राजधानी को भी नया रूप दिया जा रहा है. ग्रुप ऑफ ट्ववेंटी (G20) में 19 देश (अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, कोरिया गणराज्य, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्किये, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका) और यूरोपीय संघ शामिल हैं

यह सदस्य वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के करीब 85 फीसद, वैश्विक व्यापार का करीब 75 फीसद से ज्यादा और विश्व जनसंख्या के लगभग दो-तिहाई हिस्से का प्रतिनिधित्व करते हैं. (पीटीआई के इनपुट के साथ)

Tags: G20, PM Modi

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!