Thursday, June 13, 2024
Homeमहाराष्ट्रप्राकृतिक सुंदरता के संगम ऋषिकेश ने दुनिया को दिया योग-आयुर्वेद के साथ...

प्राकृतिक सुंदरता के संगम ऋषिकेश ने दुनिया को दिया योग-आयुर्वेद के साथ जीवन का मंत्र: स्वामी चिदानंद सरस्वती

ऋषिकेश: परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती का कहना है कि उत्‍तराखंड का ऋषिकेश सिर्फ स्विट्जरलैंड की तरह प्राकृतिक सुंदरता का सिर्फ संगम ही नहीं, बल्कि इस भूमि में आध्यात्मिक समृद्धता की अतिरिक्त गहराइयां नजर आती हैं. यह सिर्फ जमीन का टुकड़ा नहीं, बल्कि वास्तव में शांति की भूमि भी है. योग और आयुर्वेद का जन्म यहीं हुआ, हिमालय के इन्हीं केंद्रों से, जो पूरी दुनिया को न केवल स्वस्थ रहने के सूत्र बल्कि जीवन जीने के मंत्र भी दे रहे हैं. 

स्वामी चिदानंद सरस्वती आईएमए इंडिया के आठवें वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023 को पिट्सबर्ग से ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे. इस सम्‍मेलन में 100 से अधिक भारतीय और बहुराष्ट्रीय कंपनियों के मुख्य कार्यकारी और प्रबंध निदेशक हिस्‍सा लिया था. सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि यह भारत का सौभाग्य है कि भारत के पास एक सफल, गतिशील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. वह भारतीय अर्थव्यवस्था को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के इच्छुक हैं और आपको इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है.’

उन्होंने आगे कहा कि भौतिक प्रचुरता के साथ-साथ हमको अपनी आध्यात्मिक प्रचुरता का भी लाभ उठाना चाहिए.  जब आप अपने आध्यात्मिक विकास और आधार को देश की भौतिक समृद्धि के साथ जोड़ते हैं, तो हम निश्चित रूप से सभी के लिए और सभी के साथ स्थायी विकास को देखते हैं. याद रखें जीवन का अर्थ अधिक पाना नहीं, बल्कि अधिक होना है. इस दौरान, स्‍वामी चिदानंद सरस्‍वती ने सम्‍मेलन में उपस्थिति सभी प्रतिनिधियों के लिए विशेषे ध्‍यान सत्र का नेतृव्‍त करते हुए उनके समग्र स्वास्थ्य और कल्याण के लिए आध्यात्मिक मंत्र साझा किया.

आठवें वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023 में शामिल भारतीय एवं बहुराष्‍ट्रीय कंपनियों के सीईओ बने विश्व प्रसिद्ध परमार्थ गंगा आरती का हिस्‍सा.    प्राकृतिक सुंदरता के संगम ऋषिकेश ने दुनिया को दिया योग-आयुर्वेद के साथ जीवन का मंत्र: स्वामी चिदानंद सरस्वती | Parmarth Ashram IMA Annual CEO Strategy Roundtable-2023 Ganga Aarti Yoga performed by Swami Chidanand Sadhvi Bhagwati Saraswati | Parmarth Ashram, Parmarth Ashram Rishikesh, IMA India, Eighth Annual CEO Strategy Roundtable-2023, Swami Chidanand Saraswati, Swami Chidanand Saraswati, Ganga Aarti, परमार्थ आश्रम, परमार्थ आश्रम ऋषिकेश, आईएमए इंडिया,  आठवां वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023, स्वामी चिदानंद सरस्वती, स्वामी चिदानंद सरस्वती, गंगा आरती,

आठवें वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023 को पिट्सबर्ग से ऑनलाइन संबोधित करती हुईं डिवाइन शक्ति फाउंडेशन की अध्यक्ष साध्वी भगवती सरस्वती.

सम्‍मेलन में विशेष रूप से आमंत्रित डिवाइन शक्ति फाउंडेशन की अध्यक्ष साध्वी भगवती सरस्वती ने हॉलीवुड से हिमालय तक की अपनी यात्रा साझा की. उन्होंने बताया कि पश्चिम में मैंने देखा कि हर किसी के पास सब कुछ था.  भौतिक दृष्टि से वे बहुत प्रचुर थे, लेकिन उनमें शांति और खुशी का अभाव था. ऐसा लग रहा था मानों सबकुछ पा लिया हो, लेकिन सुख-शांति हमेशा एक कदम दूर हो. लेकिन, जब मैं भारत और माँ गंगा के तट पर आई, तो मुझे एहसास हुआ कि बहुत कम भौतिक प्रचुरता के बावजूद भी मैं जिन लोगों से मिली, वे बहुत अधिक अमीर थे. 

उन्‍होंने कहा कि मुझे यहां इस पवित्र संस्कृति में शांति और खुशी की अनुभूति मिली, जो मुझे पश्चिम में नहीं मिली.  इसलिए जब आप अपने साथ पवित्र हिमालय से उस ज्ञान को ग्रहण करें और उसे अपने साथ लेकर वापस जाएं. उन्होंने यह संदेश देने के लिए कुछ ऐसी कहानियाँ भी साझा कीं, जिनसे हमारे जीवन के सभी पहलू आपस में जुड़े हुए हैं. यदि हमें आध्यात्मिक रूप से पोषित नहीं किया जाता है, तो कोई भी भौतिक संपत्ति हमें जीवन में सच्ची पूर्णता और अर्थ नहीं दे सकती है.

प्राकृतिक सुंदरता के संगम ऋषिकेश ने दुनिया को दिया योग-आयुर्वेद के साथ जीवन का मंत्र: स्वामी चिदानंद सरस्वती | Parmarth Ashram IMA Annual CEO Strategy Roundtable-2023 Ganga Aarti Yoga performed by Swami Chidanand Sadhvi Bhagwati Saraswati | Parmarth Ashram, Parmarth Ashram Rishikesh, IMA India, Eighth Annual CEO Strategy Roundtable-2023, Swami Chidanand Saraswati, Swami Chidanand Saraswati, Ganga Aarti, परमार्थ आश्रम, परमार्थ आश्रम ऋषिकेश, आईएमए इंडिया,  आठवां वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023, स्वामी चिदानंद सरस्वती, स्वामी चिदानंद सरस्वती, गंगा आरती, 

आठवें वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023 में शामिल भारतीय एवं बहुराष्‍ट्रीय कंपनियों के सीईओ बने विश्व प्रसिद्ध परमार्थ गंगा आरती का हिस्‍सा.

उल्‍लेखनीय है कि आईएमए इंडिया को परमार्थ आश्रम को आठवें वार्षिक सीईओ रणनीति गोलमेज सम्मेलन-2023 के लिए विशेष रूप से आमंत्रित किया था. इसके अलावा, सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने वाले सभी प्रतिनिधियों के लिए विश्व प्रसिद्ध परमार्थ गंगा आरती का आयोजन भी किया गया. गंगा नंदिनी ने परमार्थ की समृद्ध योग परंपरा का प्रतिनिधित्व किया. 

Tags: IMA, Rishikesh news, Uttarakhand news

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!