Thursday, February 29, 2024
Homeमहाराष्ट्रChandrayaan-3 Mission: कुछ यूं जुड़ी कड़ी-कड़ी....चंद्रयान में हुआ है 1.5 लाख नटबोल्ट...

Chandrayaan-3 Mission: कुछ यूं जुड़ी कड़ी-कड़ी….चंद्रयान में हुआ है 1.5 लाख नटबोल्ट का इस्तेमाल, जानें कहां और किस कंपनी ने बनाए

रोहतक. चंद्रयान-3 की सुरक्षित लैंडिंग के बाद पूरा देश जश्न मना रहा है और अब भारत भी दुनिया के उन चार देशों में शामिल हो गया है, जिन्होंने चांद पर अपनी पताका फहराई है. पूरा देश इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दे रहा है और चांद पर भारत के बढ़ते कदमों से पूरी दुनिया भारत की ताकत का लोहा मान रही है.लेकिन  चंद्रयान-3 के निर्माण में हरियाणा के रोहतक जिले का भी बहुत बड़ा योगदान है. चंद्रयान के ढांचे को जोड़ने में जिन नट-बोल्ट का इस्तेमाल किया गया, वह रोहतक में ही बने हैं.

रोहतक की एलपीएस बोसार्ड फैक्ट्री में जो नट-बोल्ट बनाए गए, उनमें से तकरीबन डेढ़ लाख नट बोल्ट का इस्तेमाल चंद्रयान-3 के लिए किया गया है. इन नट-बोल्ट को एक खास पैरामीटर पर तैयार किया जाता है और जिससे इनमें हजारों टन दबाव झेलने की क्षमता होती है. साथ ही 200 डिग्री सेल्सियस माइनस और प्लस तापमान सहन करने की भी क्षमता है.

एलपीएस बोसार्ड के जनरल मैनेजर मुकेश सिंह ने बताया कि इसरो की तरफ से ड्राइंग दी जाती है और उनके पैरामीटर को ध्यान में रखकर ही इन नट बोल्ट का निर्माण किया जाता है. किसी तरह की कोई कमी ना हो, इसके लिए प्रत्येक स्क्रू को कई पैरामीटर पर परखा जाता है. चंद्रयान-3 में हमारी कंपनी के कर्मचारियों का भी बहुत योगदान है और हमें गर्व है कि हम चंद्रयान-3 का हिस्सा बनें. इससे पहले भी इसरो की तरफ से कई प्रोजेक्ट उनकी कंपनी ने पूरे किए हैं और भविष्य में भी वे देश का गौरव बढ़ाने वाले प्रोजेक्ट में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करते रहेंगे.

हरियाणा के गर्व की बात- डायरेक्टर

एलपीएस के मैनेजिंग डायरेक्टर राजेश जैन ने बताया कि यह उनके शहर रोहतक और हरियाणा के लिए गर्व की बात है. देश को गौरवांवित करने वाले कई प्रोजेक्ट्स में उनकी कंपनी काम करती है. चंद्रयान-3 से पहले देश की जितनी भी मिसाइलें बनी हैं, चाहे वह अग्नि हो, पृथ्वी हो या ब्रह्मोस, सबमें एलपीएस के ही नट बोल्ट लगे हैं. भारतीय रेल के लिए भी वे नट बोल्ट बनाते हैं और उन्हें गर्व है कि अब भारत ये उपकरण आयात ही नहीं करता, बल्कि निर्यात भी करता है.

Tags: Chandrayaan-3, Haryana News Today, Rohtak News

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!