Monday, May 20, 2024
Homeमहाराष्ट्र'पाकिस्तान का खौफ है, वहां कोई कानून नहीं...' सीमा हैदर को सताया...

‘पाकिस्तान का खौफ है, वहां कोई कानून नहीं…’ सीमा हैदर को सताया मौत का डर, जानें क्या बोली

नई दिल्‍ली. यूपी पुलिस के टॉप कॉप प्रशांत कुमार ने बीते दिनों साफ किया था कि विधि पूर्वक सीमा हैदर को वापस उसके देश पाकिस्‍तान भेजा जाएगा. अवैध रूप से भारत में दाखिल होकर ग्रेटर नोएडा में अपने नए पति सचिन मीणा के साथ रह रही सीमा को वापस लौटने पर जान का डर सता रहा है. न्‍यूज18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर किशोर अजवाणी से बातचीत के दौरान सीमा ने कहा कि वापस पाकिस्‍तान लौटने के नाम से ही उन्‍हें खौफ आता है.

सीमा हैदर ने कहा, ‘पाकिस्तान के नाम से मुझे खौफ आता है. मैं वहां जाना नहीं चाहती. मेरे पीछे कुछ है नहीं. मैं इनके (सचिन के) बगैर जी नहीं सकती. वहां का कानून गैरत के नाम पर कुछ नहीं कहता. यहां तो गैरत की बात बन चुकी है. कभी जिंदगी में संघ से बाहर कदम नहीं रखा. पहली बार आई इनसे मिलने. दूसरी बार भी इन्हीं से मिलने आई.’ इसपर सचिन ने कहा कि मैंने कभी धर्म बदलने के लिए सीमा को नहीं बोला. उसने अपने आप ही यह धर्म अपनाया है.’

इंडिया में वो मेरा बाल भी बांका नहीं कर सकते
सीमा हैदर ने माना की भारतीय सरजमीं पर वो खुद को सुरक्षित महसूस कर रही हैं. उन्‍होंने कहा, ‘मेरी बहनों ने पैगाम भेजा कि सीमा गांव वापस आ जा. खुद सामने नहीं आई. मैंने कभी अपनी बहनों से बात करने की कोशिश भी नहीं की. अगर किसी को पता चल जाता कि मैं किसी से प्यार करती हूं, तो मैं वहां खत्म हो जाती. वह मेरा बाल भी बांका नहीं कर सकते इंडिया में.’

बच्‍चों की वजह से पकड़े गए
सीमा हैदर ने भारतीय जांच एजेंसियों की नजर में आने के विषय पर कहा कि मुझे भारत में अपनी शादी को लीगल रहना था. ‘मैंने वकील से भी बात की. बच्चों के कारण ही हम पकड़े गए. बच्चों को मैं स्कूल भेजना चाहती थी. पाकिस्तान से मुझे प्यार था लेकिन हिंदुस्तान से मुझे ज्यादा है. यहां के लोग बहुत सम्मान करते हैं. कुछ लोगों ने गलत भी कहा है. कुछ लोगों ने मेरे अब्बू के बारे में गलत-गलत कहा. लोगों ने कहा कि मैं अपने अब्बू के साथ नाच रही थी और वो मेरे बॉयफ्रेंड हैं.’

शानदार अंग्रेजी पढ़ने पर क्‍या बोली सीमा?
सीमा हैदर यूं तो खुद को अनपढ़ बताती हैं लेकिन यूपी एटीएस के सामने शानदार अंग्रेजी पढ़ने के बाद उनपर सवाल उठाए गए. इसपर सीमा ने कहा, ‘आसान-आसान शब्दों के मतलब मुझे पता हैं. ऑलवेज- हमेशा, गुड- सही, इसका यह मतलब नहीं कि मैं पूरी अंग्रेजी पढ़ सकती हूं. अलग-अलग शब्द होते हैं, मैं उनको समझ सकती हूं. मैंने गांव में पढ़ाई करके यह सब सीखा.’

Tags: International news, International news in hindi, Seema Haider, World news in hindi

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!