Friday, July 19, 2024
Homeमहाराष्ट्रदिल्ली ऑडिनेंस बिल पर YSR कांग्रेस कर दिया बड़ा ऐलान, कहा- पार्टी...

दिल्ली ऑडिनेंस बिल पर YSR कांग्रेस कर दिया बड़ा ऐलान, कहा- पार्टी ने अपना फैसला ले लिया

नई दिल्‍ली. दिल्‍ली ऑर्डिनेंस बिल (Delhi Ordinance Bill) को लेकर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (YSRCP) ने मंगलवार को अपने फैसले के बारे में जानकारी दी है. पार्टी ने कहा है कि आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी और पार्टी ने दिल्‍ली के अफसरों के ट्रांसफर और पोस्टिंग से जुड़े अध्‍यादेश की जगह लेने वाले बिल पर केंद्र सरकार का समर्थन करने का निर्णय लिया है.

समाचार एजेंसी एएनआई से चर्चा में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के सांसद विजयसाई रेड्डी ने कहा कि हम चाहते हैं कि यह बिल संसद में पास हो और इसके लिए हमारी पार्टी और नेता वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने विधेयक का समर्थन करने का फैसला लिया है. वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा में 9 सांसद है. ऐसी उम्‍मीद है कि यह बिल लोकसभा की तरह ही राज्‍यसभा में भी समर्थन पाएगा.

सिविल सेवा प्राधिकरण स्थापित करने का प्रावधान
केंद्र की ओर से 19 मई को जारी इस अध्यादेश में सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश को पलटने का प्रावधान है, जिसने अधिकारियों के ट्रांसफर और पोस्टिंग सहित सेवा मामलों में दिल्ली सरकार को कार्यकारी शक्तियां दी थीं. इस अध्यादेश में दिल्ली, अंडमान और निकोबार, लक्षद्वीप, दमन और दीव तथा दादरा और नगर हवेली (सिविल) सेवा (DANICS) कैडर के ग्रुप-ए अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई और तबादलों के लिए राष्ट्रीय राजधानी सिविल सेवा प्राधिकरण स्थापित करने का प्रावधान है.

आम आदमी पार्टी इस बिल का मुखर विरोध कर रही
संसद का मानसून सत्र शुरू होने से पहले लोकसभा सचिवालय की तरफ से जारी नोटिफिकेशन में बताया गया था कि इस सत्र के दौरान सरकारी कार्यों की संभावित सूची में 21 नए विधेयकों को पेश और पारित करने के लिए शामिल किया गया है. इस विधेयकों में दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार संशोधन विधेयक 2023 भी शामिल है. दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी इस बिल का मुखर विरोध कर रही है और अन्य विपक्षी पार्टियों को भी इसके खिलाफ लामबंद कर रही है. ऐसे में इस विधेयक को राज्यसभा से पास कराने के लिए सरकार के लिए मशक्कत करनी पड़ सकती है.

Tags: CM Jagan Mohan Reddy, Ordinance, YSRCP

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Recent News

Most Popular

error: कॉपी करणे हा कायद्याने गुन्हा आहे ... !!